Sunday, September 28, 2008

रोमण हत्यारा - सुपर कमांडो ध्रुव


ये कहानी है कुछ ऐसे भ्रष्ट अधिकारियों कि जो पद और पैसे के लालच में कुछ भी करने को तैयार हो जाते हैं और बन जाते हैं रोमण हत्यारा..

ये कामिक्स सुपर कमांडो ध्रुव के शुरूवाती दिनों के कामिक्स में से आती है.. शायद ध्रुव की दूसरी कामिक्स.. उन दिनों कामिक्स बाजार में इंद्रजाल कामिक्स, मनोज कामिक्स, डायमंड कामिक्स और तुलसी कामिक्स चला करते थे.. राज कामिक्स भी बाजार में अपनी पहचान नागराज के कामिक्स के द्वारा बना रहे थे.. ऐसे समय में राज कामिक्स ने ध्रुव नाम के एक नये कैरेक्टर को जन्म दिया और धीरे-धीरे पूरे बाजार पर छा गये.. अगर आज विशुद्ध भारतीय कामिक्स सुपर हीरोज की बात की जाये तो ध्रुव और नागराज ही सबसे पहले दिमाग में आते हैं.. मनीष गुप्ता जी और संजय गुप्ता जी को मैं तहेदिल से धन्यवाद देना चाहूंगा ऐसे चरित्रों का निर्माण करने के लिये.. आज भारतीय बाजार से मनोज कामिक्स, इंद्रजाल कामिक्स और तुलसी कामिक्स पूरी तरह से बंद हो चुके हैं(मेरी जानकारी मे, अगर मैं गलत हूं तो सही करें)..

मेरी नजर में शुरूवाती दिनों में आने वाली ध्रुव के कामिक्स कि बात ही कुछ और हुआ करती थी.. स्टोरी लाईन बिलकुल कसी हुई.. कहानी में तेजी और कुछ भी ऐसा नहीं जिसे आप यह कह सकें कि ये संभव नहीं है या फिर यह कि ये बस कहानियों या कामिक्स में ही हो सकते हैं.. आजकल उसके आने वाले कामिक्सो में वह बात नहीं रही.. मगर फिर भी मैं उम्मीद करता हूं कि वो स्वर्णिम दिन फिर से लौट कर आयेंगे..

आप फिलहाल यह कामिक्स पढें.. मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि ये आपको जबरदस्त लगेगी..

डाऊनलोड लिंक - http://www.4shared.com/file/62943549/db4b7d76/Roman_hatyara.html
इसे डाऊनलोड करने के लिये आप इस चित्र पर भी क्लिक कर सकते हैं..

8 comments:

  1. प्रशांत सुपर कमांडर ध्रुव जब आया था तो हम थोड़े बड़े हो गए थे और पढ़ाई में मशगूल होने लगे थे । पर छोटे भाई ने उसके कॉमिक्‍स खूब पढ़े । जिनमें थोड़ा बहुत हमने भी झांका । मेरा एक सहकर्मी और मित्र है उसने अपने बेटे का नाम क्‍या रखा है बूझो----ध्रुव । किस चरित्र पर । ये बताने की जरूरत है क्‍या ।

    ReplyDelete
  2. download link main kuch problem hai kya..main download nahi kar pa raha hu.

    Please jara check kar lijiye.

    ReplyDelete
  3. सौरभ जी, मेरे यहां से लिंक बिलकुल सही काम कर रहा है.. मैं समझता हूं की कुछ दिक्कत आपके तरफ़ से है..

    ReplyDelete
  4. जी हां युनुस जी, आपने मुझे एक दिन चैट पर भी यह बात बताई थी.. अभी मेरे भतीजे के नामांकरण के समय तो मैं ना जाने कितनी ही बार उसका नाम ध्रुव ही बताया हूं.. :)

    ReplyDelete
  5. mujhe bhi kuch aisa hi lag raha hai..aaj to ek bhi comics ki link nahi khul rahi..:-(

    ReplyDelete
  6. Very nice blog, will add link in my blog. Others should know about it. Keep it up.

    ReplyDelete
  7. Roman Hatyara was Dhruv's second comic and this is the one where Dhruv starts recruitment for his Commando force. Tulsi Comics wasn't available in the market till this comic came. It was created by Anupam Sinha, Manish Gupta those days was used to be credited as Manish Chandra Gupt. Nice post.

    ReplyDelete