Sunday, August 17, 2008

स्वर्ग की तबाही(भाग - 2)

पिछली कामिक्स में आपने पढा होगा की ऐन वक्त पर एक अजनबी मददगार ध्रुव की मदद के लिये आ जाता है.. कौन है वो मददगार.. ये चंडिका कौन है? ये सभी रहस्य इस कामिक्स में खुलती है.. चंडिका का रहस्य बस पाठकों के लिये ही खुलता है.. ध्रुव तो अपनी पूरी जिंदगी इस रहस्य को सुलझाने के लिये जूझता रहता है.. ध्रुव को ये शक हमेशा ही रहता है की चंडिका उसकी छोटी और प्यारी बहन श्वेता ही है मगर कभी भी वो इसे साबित नहीं कर पाता है..

अभी कुछ दिनों पहले दुनिया भर के सभी कामिक सुपर हीरो का रेटिंग निकाला गया था, उसमें ध्रुव की रैंकिंग बस इसी कारण खराब बतायी गई थी क्योंकि वो कभी श्वेता और चंडिका का रहस्य सुलझा नहीं पाया..

खैर आप सभी इन सभी झंझावतों से बाहर निकल कर इस कामिक्स का मजा उठायें.. मुझे बस इतना याद है की जब मैं इसे अपने बचपन में पहली बार पढा था ट्तब कई दिनों तक मेरे मन में ये कामिक्स हावी था.. मैं आज भी कभी कभी ये कामिक्स निकालकर पढने बैठ जाता हूं.. मुझे याद भी नहीं की मैंने कितनी बार इसे पढा है.. इसके सारे डायलॉग मुझे लगभग याद हैं.. वैसे सही कहूं तो मुझे ध्रुव के लगभग सारे कामिक्स के डायलॉग ही याद हैं.. :)

फिलहाल तो आप इस कामिक्स का मजा उठायें.. 
स्वर्ग की तबाही पढने के लिये आप यहां क्लिक करें..
इसे पढने के लिये इस साफ्टवेयर का प्रयोग करें..























संजय गुप्ता जी के अनुरोध पर डाउनलोड लिंक हटाया जा रहा है..

4 comments:

  1. अपन तो वेताल के दीवाने थे. आज भी है. :)

    ReplyDelete
  2. आहा मजा आ गया ....

    ReplyDelete
  3. भइया आप कभी बड़े नही होंगे :-)

    ReplyDelete
  4. Bade Bhai Ye Superheroes Ki rating kahaan dekhne ko mil sakti hai

    ReplyDelete