Saturday, August 30, 2008

देखिये आलोक जी, अब बेसी डोगा-डोगा मत चिल्लाईये :)

हम आपके कामिक मित्र हैं भैया.. हम तो बस आपके लिये एक तोहफा लेकर आयें हैं.. डोगा की शुरूवाती तीनों कामिक्स का, जिससे आप डोगा के उपर और भी बढिया पोस्ट लिख सकें, और जैसा चाहें वैसा पोस्ट कामिक्स के उपर ठेलते रहें.. आप अपने पहले ही पोस्ट से डोगा-डोगा चिल्लाये हुये हैं.. अब बेसी मत चिल्लाईये.. बस बैठिये और ये कामिक्स पढिये.. वैसे आपकी जानकारी के लिये हम आपको बताते जाते हैं की डोगा के बहुते बड़े पंखा हमउ रह चुके हैं.. :)


पहली कामिक्स - कर्फ़्यू


दूसरी कामिक्स - ये है डोगा


तीसरी कामिक्स - मैं हूं डोगा


संजय गुप्ता जी के अनुरोध पर डाउनलोड लिंक हटाया जा रहा है..

7 comments:

  1. ये शरूआती कॉमिक्स पढ़े है, हालाकि तब हमारी उम्र कॉमिक्स पढ़ने वाली नहीं थी :)

    ReplyDelete
  2. Ohh Kya Baat hai Bhai....Pratap Mulick Sahab Ke Covers Dekh Kar Dil Baagh Baagh Ho Gaya....Humare paas Doga, Dhruv Nagraj ityadi ki kareeb saari comics (saal 2000 tak)Bhilai mein surakshit padi hain...
    Aur Rahi Baat Doga Ki...To Bhaiya...Main toh Doga Doga Chillaunga..chahe jo bolo ;)

    ReplyDelete
  3. puri jamat hi ikktha kar rakhi hai..apne sath sabko bigadiye :-)

    ReplyDelete
  4. @ sanjay ji : sir, comics padhne ki umra to 3 saal se 100 saal tak hoti hai.. aise me to aapki umra poori thi comics padhne ke liye.. :D

    @ alok ji : bas ap chillate jaiye.. ham bhi saath me huvan huvan karte rahenge.. :)

    @ Lovely : han sabhi ko ikaththa kar liya hai.. bas ab sabhi ek sath shiyaron jaise huvan huvan chillayenge.. ;)

    ReplyDelete
  5. ये डोगा डोगा क्या है ये डोगा डोगा ?

    ReplyDelete
  6. ऐताल बैताल नाहीं हमके त इहे चाहि. जिया हमार सेर, जिया.

    ReplyDelete
  7. kamaal ho gaya bhaiyya...shukriya bahut bahut...teeno download kiye aur bade chav se padhenge ye sab...I feel so good :)

    ReplyDelete